Main Menu

यूट्यूब पर छाएं शोहरत कमाएं

यह जमाना सोशल मीडिया का है. स्मार्टफोन और लैपटॉप टैबलेट की बदौलत अब तो गांव कसबों में भी लोग व्हाट्सऐप और यूट्यूब के बारे में जानने लगे हैं. इन पर वे सिर्फ जानकारियां ही शेयर नहीं करते, एक दूसरे के हालचाल ही नहीं लेते बल्कि कुछ तो ऐसे हैं जिन्होंने पूरी दुनिया को इस लहर में एक साथ पिरोने वाली क्रांति का फायदा उठाना भी सीख लिया है. कनाडाई पॉप सिंगर जस्टिन बीबर के बारे में ऐसी ही जानकारी सामने आई थी कि कैसे उसकी मां ने जस्टिन के गानों के वीडियो यूट्यूब पर डाले थे, जिनकी वजह से उन्हें बड़े मंचों पर गाने का मौका मिला और आज वे करोड़ों में खेल रहे हैं. ऐसा सिर्फ विदेशों में ही नहीं बल्कि अपने देश में भी लोग यूट्यूब आदि के जरिए कमाई कर रहे हैं।


यह सुनने में थोड़ा अटपटा लगता है कि कैसे कोई व्यक्ति सोशल मीडिया के जरिए कमाई कर सकता है. पर यह सच है कि थोड़े से साधन जुटा कर कोई भी क्रिएटिव व्यक्ति सोशल मीडिया से कमाई कर सकता है. देश में कई गायक अपने गानों के वीडियो खुद या किसी एजेंसी की मदद से अपलोड करते हैं. यूट्यूब ही नहीं, टिवटर आदि के सहारे भी कुछ मशहूर लोग कमेंट करने के बदले कमाई करते हैं. जैसे एक उदाहरण क्रिकेटर वीरेन्द्र सहवाग का है. साल के शुरु में खबर आई थी कि मजेदार ट्वीट करने वाले सहवाग को अपने ट्वीटस पर काफी लाइक्स मिलते हैं और खूब रीट्वीट किया जाता है. बताया गया था कि ट्विटर पर उनके 80 लाख से ज्यादा फॉलोअर्स हैं. सहवाग ने एक इंटरव्यू में यह रहस्य भी खोला था कि पिछले साल 2016 के आखिरी 6 महीने में सिर्फ ट्वीटस करने के बदले ही उनकी 30 लाख की कमाई हुई थी। उल्लेखनीय है कि सहवाग ने सिर्फ शौकिया तौर पर ट्विटर पर मस्ती के अंदाज में शुरुआत की थी, लेकिन जब इससे कमाई होने लगी तो अपने ट्वीटस में और धार लाने लगे. इसके बाद सहवाग ने यूट्यूब पर वीरु के फंडे नाम से एक चैनल भी शुरु किया है. यह मशहूर हस्तियों की बात है, लेकिन आम लोग भी यूट्यूब से पैसा बना रहे हैं. इसका एक उदाहरण दिल्ली से सटे नोएडा के एक परिवार ने पेश किया है. इस परिवार को कुछ लोग यूट्यूबर्स फैमिली कह कर पुकारते हैं. 8 लोगों के इस परिवार में 3 महिलाएं और एक बच्चा यूट्यूब के शो होस्ट करता है, जबकि बाकी सदस्य स्क्रिप्ट लिखने से लेकर कैमरा संभालने तक का काम करते हैं। इनके यूट्यूब चैनल की शुरुआत रुचि ने 4 साल पहले अमेरिका में वक्त काटने के लिए की थी. वहां उन्होंने सस्ते में मिलने वाले मेकअप प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करने और उनका प्रचार करने के लिए अपना यूट्यूब चैनल बनाया था. उनके चैनल के इस वक्त करीब साढ़े 13 करोड़ दर्शक हैं. इससे प्रभावित होकर मेकअप बनाने वाली कंपनियों ने उनके चैनल को विज्ञापन देना शुरु कर दिया।


भारत लौटने पर रुचि के पति ने भी 30 लाख रुपये सलाना वेतन वाली नौकरी छोड़ दी और नोएडा में किराए पर एक अपार्टमेंट लेकर यूट्यूब वीडियो बनाना शुरु कर दिया. इस अपार्टमेंट में टीवी स्टूडियो जैसे ही इंतजाम हैं और यह परिवार हर हफ्ते अपने 4 यूट्यूब चैनलों के लिए औसतन 10 वीडियो बनाता है. इससे उन्हें अच्छी खासी कमाई हो जाती है, पर सवाल यह है कि क्या यह सब इतना आसान है, क्या हर कोई अपना यूट्यूब चैनल बनाकर उस पर वीडियो डाल कर कमाई कर सकता है. असल में, इसकी एक प्रक्रिया और कुछ शर्तें हैं, जिनका पालन करने पर ही यूट्यूब से कमाई के रास्ते खुल सकते हैं। यूट्यूब पर अपना चैनल शुरु करने से पहले यह जानना जरुरी है कि आज की तारिख में यूट्यूब पर लाखों दिलचस्प चैनल हैं और उनमें से हजारों चैनलों को करोड़ों लोग देखते भी हैं. गायकों, फिल्म व टीवी कलाकारों, कॉमेडियन्स आदि के यूट्यूब चैनल खूब देखे जाते हैं और विज्ञापनों के माध्यम से उनकी कमाई भी खूब होती है पर जरुरी नहीं कि सिर्फ मशहूर लोगों के यूट्यूब चैनल ही पैसा कमा सकते हैं। नोएडा के इस परिवार ने साबित किया है कि ऐसा कोई भी कर सकता है, बशर्ते उसके पास एक अनोखा आइडिया और उसे सावधानीपूर्वक अमल में लाने का तरीका पता हो।


यूट्यूब चैनल बनाने की बेसिक तैयारी के तहत सबसे पहले अपना जीमेल अकाउंट बनाएं. यह कोई मुश्किल काम नहीं है क्योंकि हर व्यक्ति का ईमेल अकाउंट प्राय: जीमेल पर ही होता है. इस अकाउंट में लॉगिन करने के बाद यूट्यूब डॉट कॉम नामक वेबसाइट खोलें. यूट्यूब डॉट कॉम खुलने के बाद उसपर क्रिएटर स्टूडियो नामक ऑप्शन से कोई भी व्यक्ति अपना चैनल बना सकता है. वहां अपनी प्रोफाइल पिञ्चचर लगाकर चैनल के डैशबोर्ड पर अपने चैनल का बैनर बनाएं। डैशबोर्ड पर अपने चैनल के बारे में वे सारी जानकारियां दें जो चैनल पर दी जाने वाली सामग्री अपलोड करते वक्त तारिख और कांटेक्ट करने के तरीके के बारे में लोगों को बताती है. ध्यान रहे चैनल बनाने से पहले उसका एक अच्छा सा नाम सोच लें और बेहतरीन प्रोफाइल पिञ्चचर छांट कर रख लें. ऐसे नाम का चुनाव करें, जो पहले से यूट्यूब पर मौजूद नहीं हो. एक बार जब यह चैनल बन जाता है, तो उसपर दी जाने वाली सामग्री किस तरह डाली जाए, इसकी योजना भी बना लें। यह एक जरुरी सवाल है कि आप अपने यूट्यूब चैनल पर ऐसा क्या दिखा सकते हैं, जो लोगों को आकर्षित करे. जाहिर है, इसके लिए आपके पास बेहतरीन विचार या कटेंट होने चाहिए. दूसरा बेहतरीन डिजिटल कैमरा, कॉलर माइक, वीडियो एडिटिंग के सॉफ्टवेयर, कम्प्यूटर और स्क्रिप्ट शामिल हैं. यूट्यूब के लिए कोई नया वीडियो तकरीबन उसी तरह बनाया जाता है जैसे कोई फिल्म या टीवी सीरियल शूट होता है, लेकिन फर्क यह है कि घर पर बनाये जाने वाले वीडियो बेहद कम संसाधन में बन जाते हैं. यदि डिजिटल कैमरा नहीं है, तो एक अच्छे स्मार्टफोन से भी यह काम हो सकता है. हमें अपने यूट्यूब चैनल पर क्या दिखाना है, यह तय करना जरुरी है. लेकिन ध्यान रहे जो कुछ आप बनाने या दिखाने जा रहे हैं वह यूट्यूब पर पहले से मौजूद नहीं हो. इसलिए इसकी खोजबीन अवश्य कर लें।


ध्यान रहे कि लोग नई चीजों की तलाश में रहते हैं. आप यदि राजनीतिक दशा पर अच्छे कमेंट कर सकते हैं या नये गानों की पैरोडी बना सकते हैं तो लोग उसे पसंद कर सकते हैं. ऐसे नये विचारों या सामाग्री की स्क्रिप्ट और स्क्रीनप्ले तैयारी करनी जरुरी होती है. स्क्रिप्ट किसी कहानी की तरह होती है और स्क्रीनप्ले फिल्माए जाने वाले एकएक दृश्य का वर्णन होता है, जिसमें यह बताया जाता है कि कौन कलाकार कब क्या बोलेगा? किस जगह खड़ा होगा? क्या कपड़े पहनेगा? कैसा दिखेगा आदि? हर एक शॉट स्क्रिप्ट और स्क्रीनप्ले के हिसाब से शूट किया जाता है. यह शूटिंग कहां की जानी है, इसे भी पहले से तय करना होगा, अगर किचन से जुड़े किसी सामान का रिव्यू करना है तो यह किचन जैसे नजारे के साथ शूट करना बेहतर होता है. वीडियो चैनल पर अपलोड करने का काफी काम वीडियो शूट करने के बाद होता है. अच्छे वीडियो के लिए हो सकता है कि कई दिन के शूट के बाद सिर्फ कुछ मिनट के फुटेज ही काम के हों, इसलिए स्क्रिप्ट और स्क्रीनप्ले के बाद वीडियो शूट करते समय कई चीजों का ध्यान रखना चाहिए, जिसमें कुछ इंस्ट्रूमेंट काफी काम आते हैं. अगर किसी के पास मौलिक आइडिया है और यूट्यूब के जरिए थोड़ी बहुत पहचान हासिल कर ली है, तो आपके चैनल को मशहूर बनाने में खुद यूट्यूब सहायता करता है. इसकी सुविधा मुंबई में यूट्यूब के ट्यूब स्पेस के रुप में मिलती है।






Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *